जल्दी-जल्दी खाना खाने से वजन बढ़ता है और हो सकती हैं ये 4 बीमारियां

Health

जल्दी जल्दी खाने से दिमाग को जरूरी संदेश नहीं मिल पाता है. जिसकी वजह से जरूरी हार्मोन नहीं निकल पाते हैं. इसकी वजह से इंसान का इंसुलिन प्रभावित होता है. इंसुलिन प्रभावित होने की वजह से डायबिटीज का खतरा बढ़ने लगता है|

जल्दी जल्दी खाना खाने की आदत ज्यादातर लोगों में होती है. कुछ लोगों को खाना खाने में जल्दी की आदत होती है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि जल्दी जल्दी खाना खाना सेहत के लिए कितना हानिकारक है ? जी हां, जो लोग बहुत तेजी खाना खाते हैं वो कई बीमारियों के शिकार हो जाते हैं. खाना खाने के तरीके पर कई तरह के शोध हो चुके हैं. जल्दी जल्दी खाने की आदत पर भी शोध हुए हैं.

क्या कहता है शोध 

जापान में हुए एक शोध के अनुसार जो लोग बहुत जल्दी जल्दी खाना खाते हैं उनमें मेटाबॉलिक सिंड्रोम हो जाता है. मेटबॉलिक सिंड्रोम की वजह से मोटापा, ब्लड शुगर, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज सहित हार्ट रोग की संभावना बढ़ जाती है.

 

 

मेटाबॉलिक सिंड्रोम क्या है 

मेटाबॉलिक सिंड्रोम कोई बीमारी नहीं है लेकिन यह कई बीमारियों का संकेत व जड़ होता है. शरीर में जब बैड कोलेस्ट्राल अधिक हो जाता है, गुड कोलेस्ट्राल कम होने लगता है, ब्लड शुगर लेवल बढ़ने घटने लगता और ब्लड प्रेशर भी कम ज्यादा होने लगता है. तो उसे मेटाबॉलिक सिंड्रोम का कहा जाता है. लोगों को मेटाबॉलिक सिंड्रोम की वजह से फैटी लिवर, मोटापा, डायबिटीज और ब्लड प्रेशर की बीमारी होती है. जो लोग खान-पान में लापरवाही और एक्सरसाइज से दूर रहते हैं उनमें मोटाबॉलिक सिंड्रोम का खतरा ज्यादा होता है.

जल्दी जल्दी खाने के नुकसान 

जैसा की आपने ऊपर पढ़ा कि जल्दी जल्दी खाने की वजह से मेटाबॉलिक सिंड्रोम का खतरा बढ़ जाता है. उसकी वजह यह होती है कि जब आप जल्दी जल्दी खाते हैं तो जरूरत से अधिक खाते हैं. इसके अलावा जल्दी जल्दी खाने से दिमाग को जरूरी संदेश नहीं मिल पाता है. जिसकी वजह से जरूरी हार्मोन नहीं निकल पाते हैं. इसकी वजह से इंसान का इंसुलिन प्रभावित होता है. इंसुलिन प्रभावित होने की वजह से डायबिटीज का खतरा बढ़ने लगता है.

मोटापा और डायबिटीज का खतरा 

जल्दी जल्दी खाने की वजह से मोटापा और डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है. मोटापा बढ़ने का मुख्य कारण होता है आप जरूरत से ज्यादा कैलोरी लेते हैं. ज्यादा कैलोरी लेने की वजह से शरीर में फैट बढ़ता है. जो लोग जल्दी जल्दी खाते हैं उनका इंसुलिन प्रभावित होता है. इंसुलिन प्रभावित होने की वजह से ब्लड शुगर लेवन बढ़ने लगता है. जो बाद में डायबिटीज की बीमारी का कारण बनता है.

हाई ब्लड प्रेशर और हार्ट रोग का खतरा 

इंसान का खान पान उसे कई बीमारियों से बचाता है. तो वहीं जल्दी जल्दी खाने की वजह से कई बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है. जब इंसान मेटाबॉलिक सिंड्रोम का शिकार होता है तो उसे हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होने लगती है. हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी की वजह से हार्ट रोग का खतरा बढ़ जाता है.

 

जल्दी जल्दी खाने की आदत कैसे बदलें

जो लोग जल्दी जल्दी खाना खाते हैं उनका सबसे बड़ा सवाल यह होता है. लेकिन ऐसा नहीं है कि यह बहुत कठीन काम है. आप अपनी आदतों को बदल सकते हैं. जल्दी जल्दी खाने की आदत बदलने के लिए आपको अपनी लाइफ स्टाइल पर ध्यान देना होगा.

  • सबसे पहले तो आपने खाने के लिए समय नियमित करें.
  • दिन में जितनी बार भी खाते हैं उसके हिसाब से अपना समय तय करें.
  • खाने के लिए कम से कम 1 घंटेे का समय निश्चित करें.
  • खाते समय अन्य किसी भी प्रकार की चीजों के बारे में न सोचें.
  • घर से बाहर निकलने के समय से 1 घंटे पहले खाने का समय निश्चित रखें.
  • गाड़ी में चलते समय खाने से बचें.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *