बुलडोजर: शाहीन बाग में मामले में दखल देने से सुप्रीम कोर्ट का इंकार

National

[ad_1]

शाहीन बाग में मामले में दखल देने से सुप्रीम कोर्ट ने इंकार कर दिया है। दरअसल, जहांगीरपुरी की तरह शाहीन बाग में भी बुलडोजर पहुंचा तो मामला एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट की चौखट पर जा पहुंचा। सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली के शाहीन बाग में अतिक्रमण हटाने के अभियान के खिलाफ माकपा की याचिका पर विचार करने से ही इंकार कर दिया। कोर्ट का कहना था कि कोई भी प्रभावित पक्ष अदालत के समक्ष नहीं है और याचिका एक राजनीतिक दल द्वारा दायर की गई है। इस अदालत को इन सब के लिए एक मंच मत बनाओ। कोर्ट ने बुलडोजर से प्रभावित होने वाले लोगों से हाईकोर्ट जाने को कहा है।
अतिक्रमण हटाने पहुंचा था बुलडोजर
दिल्ली में करीब दो साल पहले नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन से देशभर में सुर्खियों में आया शाहीन बाग आज फिर हल्ला-हंगामे के दौर में है। वजह- MCD का बुलडोजर… यहां आज से अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया जाना था। इसके लिए MCD के बुलडोजर जैसे ही शाहीन बाग पहुंचे, हंगामा शुरू हो गया। लोगों के विरोध और गहमागहमी के बीच दोपहर करीब 12.30 बजे MCD के बुलडोजर शाहीन बाग से वापस लौट गए। जिसके बाद लोगों ने यहां तिरंगा लहराया।
बुलडोजर पर चढ़ी महिलाएं
इसके पहले कार्रवाई के विरोध में लोग बुलडोजरों के सामने लेट गए। कुछ महिलाएं बुलडोजर पर चढ़ गईं। वहीं, कुछ जगहों पर लोग सड़कों पर ही धरने पर बैठ गए। हंगामा बढ़ते देख पुलिस ने लोगों को वहां से हटाया। कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया। इसके बावजूद कार्रवाई का विरोध जारी रहा।
अफसरों ने कहा कि फिलहाल अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई रोक दी गई है। इधर, सुप्रीम कोर्ट में भी आज शाहीन बाग में अतिक्रमण विरोधी मुहिम के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई 2 बजे होगी।
पुलिस फोर्स न मिलने से रुकी थी कार्रवाई
इससे पहले पुलिस फोर्स न मिलने की वजह से सोमवार को अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू होने को लेकर संदेह बना हुआ था, लेकिन करीब 10.30 बजे दिल्ली पुलिस ने फोर्स मुहैया कराने पर रजामंदी दे दी और 11 बजे के लगभग MCD के बुलडोजर शाहीन बाग की मुख्य सड़क पर पहुंच गए।
कहां-कहां चलना है MCD के बुलडोजर?
दिल्ली पुलिस से फोर्स मिलने के बाद दक्षिण दिल्ली MCD ने अगले 5 दिनों तक अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाने की तैयारी पूरी कर ली है। इसके मुताबिक आज यानी 9 मई को दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में अतिक्रमण और अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई की जानी थी।
9 मई : शाहीन बाग जी ब्लाक से जसोला नहर और कालिंदी कुंज पार्क
10 मई : एनएफसी बोधि धर्म मंदिर नजदीक गुरुद्वारा रोड
11 मई : मेहरचंद मार्केट, लोधी कालोनी, साईं मंदिर और जेएलएन मेट्रो स्टेशन
12 मई : इस्कान मंदिर, धीरसेन मार्ग, कालका देवी मार्ग
13 मई : खाड़ा कालोनी नियर कालिंदी कुंज
जहांगीरपुरी में रोकना पड़ा था MCD का बुलडोजर
इससे पहले, जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती के दिन हुई हिंसा के बाद वहां भी बुलडोजर से अतिक्रमण हटाया गया था। हालांकि तब कार्रवाई बहुत ज्यादा लंबी नहीं चल सकी थी क्योंकि इस पर सुप्रीम कोर्ट का निर्देश आ गया था। कोर्ट ने फिलहाल जहांगीरपुरी में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई पर स्टे लगाया है।
-एजेंसियां

[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *